guru

सर्वोपरि गुरु अर्थ:-शिष्य कहता है की यदि गुरु और ईश्वर एक स्थान पर खड़े हों तो वह गुरु के चरणों को पहले स्पर्श करेगा क्योंकि गुरु ने ही ईश्वर की प्राप्ति करवाई है| हर गुरु यही चाहता है की उसका शिष्य केवल शिष्य ना बना रहे बल्कि वह गुरु बन Read more…